‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ मन मोहने को तैयार

समकालीन राजनीति और राजनेताओं पर फिल्में बनाने के मामले में हिंदी सिनेमा समेत भारतीय फिल्म उद्योग का रिकॉर्ड बेहद निराशाजनक रहा है। कानूनी पचड़ों का डर तथा...

अधिक लोकतांत्रिक बनेगा ऑस्कर

इसमें कोई शक-सुबहा नहीं है कि फिल्मों के मामले में आॅस्कर दुनिया का सबसे सम्मानित पुरस्कार है। इसका मुख्य कारण यह है कि हॉलीवुड फिल्म उद्योग और...

दिल पर राज करेंगी झांसी की रानी

हमारी स्वतंत्रता की पहली संगठित लड़ाई की अप्रतिम नायिका रानी लक्ष्मीबाई का नाम, उनकी छवि और उनका बलिदान 'खूब लड़ी मदार्नी, वो तो झांसीवाली रानी थी' के...

‘धड़क’ ने बढ़ायी धड़कन

निर्देशक शशांक खेतान की 'धड़क' का ट्रेलर चर्चा का विषय बना हुआ है। यह फिल्म नागराज मंजुल की सुपरहिट मराठी फिल्म 'सैराट' पर आधारित है। जातिवादी मानसिकता...

पहली छमाहीअच्छी कमाई

हिंदी फिल्मों की कमाई के लिहाज से 2018 की पहली छमाही का हिसाब शानदार रहा है। अब तक रिलीज हुईं करीब दो दर्जन फिल्मों में से महज...

कायम है रजनीकांत का जलवा?

चार दशकों से अधिक समय से अभिनेता रजनीकांत अपने अभिनय और विशेष अदाओं से दर्शकों को प्रभावित करते आ रहे हैं। उनकी नयी फिल्म 'काला करिकालन' सात...

पोखरण की कहानी बयां करती फिल्म

भारतीय अधिकारियों, सैन्य अधिकारियों और परमाणु वैज्ञानिकों ने जिस सावधानी और गोपनीयता के साथ पोखरण परीक्षण की तैयारी की और सफल परीक्षण किये, 'परमाणु: द स्टोरी आॅफ...

‘राजी’ का जलवा जोरों पर

जासूस के जीवन पर आधारित 'राजी' फिल्म इन दिनों धूम मचा रही है। बगैर किसी शोर के देश प्रेम के बारे में साधारण ढंग से बात करने...

काबुलीवाला बना बॉयोस्कोपवाला

डैनी की नई फिल्म  बॉयोस्कोपवाला आ रही है। रबींद्रनाथ टैगोर की प्रसिद्ध कहानी काबुलीवाला की आगे की कहानी कहने वाली फिल्म है बॉयोस्कोपवाला। फिल्मकार देब मेधेकर गुरुदेव रबींद्रनाथ...

सत्यजित रे की प्रासंगिकता

भारतीय सिनेमा को एक खास मुकाम पर पहुंचाने वालों में सत्यजित रे का नाम हमेशा शुमार रहेगा। उनकी फिल्में सिनेमा जानने और समझने वालों के लिए किसी...

संपादक की पसंद