अपने-अपने दिग्भ्रम

चुनाव आयोग की पांच राज्यों में चुनाव की घोषणा के बाद सभी दलों ने अपनी रणनीति घोषित कर दी है। लेकिन इन चुनावों में जितनी दिग्भ्रमित कांग्रेस...

विश्व में भारत का स्थान

गुजरात में कच्छ जिले के एक गांव सतपार में एक सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत बहुत तेजी से आर्थिक प्रगति...

मालदीव के लोगों ने पलट दी सत्ता

मालदीव छोटे-छोटे द्वीपों वाला चार लाख आबादी का छोटा-सा देश है। इस छोटे से देश ने अपने यहां बड़ा परिवर्तन कर दिया है। किसी को आशा नहीं...

मार्क्सवाद बनाम राष्ट्रवाद

इस वर्ष छात्रसंघ चुनाव के परिणामों से स्पष्ट है कि जवाहर लल नेहरू विश्वविद्यालय अभी भी वामपंथियों का गढ़ बना हुआ है। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद उन्हें...

जम्मू-कश्मीर में नई शक्तियां उभर सकती हैं

जम्मू-कश्मीर में अगले महीने से स्थानीय निकायों के चुनाव शुरू हो रहे हैं। शहरी क्षेत्रों में स्थानीय निकायों के चुनाव 1 अक्टूबर से 5 अक्टूबर के बीच...

माओवादियों को चीन का उत्पीड़न दिखाई नहीं देता

भीमा कोरेगांव की हिंसा के सिलसिले में महाराष्ट्र पुलिस ने अनेक स्थानों पर छापे मारकर पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। अब तक की जांच से यह...

केरल की आपदा

प्राकृतिक कोप ने इस बार केरल को आप्लावित कर दिया। इस बार बीस दिन में जितनी वर्षा वहां हुई है, पिछले सौ साल में कभी नहीं हुई।...

वीएस नायपॉल हमारे तेजस्वी सहोदर

मनुष्य में अपने मूल से संबंध जोड़ने की कितनी स्वाभाविक और तीव्र इच्छा होती है, इसका एक बड़ा उदाहरण विद्याधर सूरजप्रसाद नायपॉल हैं, जिनका 85 वर्ष की...

फ्रीडम या स्वतंत्रता

अंग्रेजी के ‘फ्रीडम’ शब्द और भारतीय भाषाओं के ‘स्वतंत्रता’ और उसके समानार्थी शब्दों को पर्यायवाची के रूप में उपयोग किया जाता है। लेकिन दोनों के अभिप्राय में...

विपक्षी नेता एनजीओ की भाषा क्यों बोल रहे हैं?

विपक्षी दल संसद और उसके बाहर असम की राष्ट्रीय नागरिक पंजी को लेकर जो हो-हल्ला मचा रहे हैं, वह काफी दुर्भाग्यपूर्ण है। सभी राजनैतिक दलों की एक...

संपादक की पसंद