मंशा देवी विवाद अब आयकर विभाग तक पहुंचा
मां मंशा देवी मंदिर विवाद अब आयकर विभाग के द्वार तक भी पहुंच चुका है। राज्य आयुक्त देहरादून ने आयुक्त राज्य कर विभाग को जांच के आदेश दिए हैं।

मंशा देवी विवाद अब आयकर विभाग तक पहुंचा

युगवार्ता    07-Jun-2022
Total Views |
मां मनसा देवी मन्दिर _1
 
हरिद्वार। मां मंशा देवी मंदिर विवाद अब आयकर विभाग के द्वार तक भी पहुंच चुका है। राज्य आयुक्त देहरादून ने आयुक्त राज्य कर विभाग को जांच के आदेश दिए हैं। इसके बाद अब मामला सिटी मजिस्ट्रेट, प्रमुख सचिव, वन विभाग, पीएमओ, गृह मंत्रालय भारत सरकार, हाई कोर्ट के साथ अब आयकर विभाग में भी पहुंच गया है।
 
 
“शिकायती पत्र पर संज्ञान लेते हुए राज्य आयुक्त ने आयुक्त राज्य कर विभाग को जांच के साथ उचित कार्रवाई के लिए निर्देश दिए हैं। जिसकी एक प्रति राज्य आयुक्त ने सामाजिक कार्यकर्ता वासु सिंह को भी भेजी है।”
 
 
गौरतलब है कि सामाजिक कार्यकर्ता वासु सिंह निवासी एसएल 171 शिवलोक कालोनी, भभूतावाला बाग, हरिद्वार ने 21 जून को राज्य आयुक्त देहरादून को पत्र प्रेषित कर मां मंशा देवी मंदिर में 80जी के अंतर्गत दान लेने संबंधी शिकायत करते हुए कहा था कि जिस ट्रस्ट के नाम पर 80 जी के अंतर्गत छूट ली जा रही है। वह ट्रस्ट है ही नहीं। जिस कारण से कथित ट्रस्ट के लोग 80जी की छूट संबंधी दान रसीद देकर आर्थिक अपराध कर रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने वर्ष 1972 से वर्ष 2022 तक के मां मंशा देवी कथित ट्रस्ट का स्पेशल ऑडिट कराने की भी मांग की थी।
 
शिकायती पत्र पर संज्ञान लेते हुए राज्य आयुक्त ने आयुक्त राज्य कर विभाग को जांच के साथ उचित कार्रवाई के लिए निर्देश दिए हैं। जिसकी एक प्रति राज्य आयुक्त ने सामाजिक कार्यकर्ता वासु सिंह को भी भेजी है।
 
वासु सिंह का आरोप है कि जब मां मंशा देवी मंदिर नाम से कोई ट्रस्ट है ही नहीं तो उसको आयकर की धारा 80 जी के अंतर्गत छूट का लाभ कैसे दिया जा सकता है। जबकि 1972 से वर्ष 2022 तक कथित ट्रस्ट का कोई ऑडिट भी नहीं कराया गया है। इसके साथ ही उच्च न्यायालय नैनीताल के आदेश के बाद भी लेनदेन का लेखाजोखा भी न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत न कर न्यायालय के आदेशों की अवहेलना की गयी है।
 
इसके साथ ही पीएमओ ने मां मंशा देवी विवाद में जांच के आदेश देने के बाद जांच की आख्या भी जांच अधिकारियों से मांगी है।